ऐसी बैटरी की खोज जिसे कभी बदलने की जरुरत नहीं पड़गी

ऐसी बैटरी की खोज जिसे कभी बदलने की जरुरत नहीं पड़गी यनिवर्सिटी ऑफ़ कैलिफ़ोर्निया मैं इर्विन रेसेअर्चेर्स ने किया ये कारनामा  जैसा की हम सभी जानते है की कुछ समय बाद मोबाइल , लैपटॉप ,यूपीएस आदि की बैटरी डेड पड़ जाती है और हमे नयी बैटरी खरीदनी पड़ती है अब इसकी जुरअत नहीं पड़गी

यनिवर्सिटी ऑफ़ कैलिफ़ोर्निया मैं इर्विन रेसेअर्चेर्स ने नैनो वायर की मदत से एक ऐसी बैटरी की खोज की है जिसे कभी बदलने की जरुरत नहीं पड़गी
नैनो वायर जोकि इंसान के बाल से 1000 गुना पतली होती है जिसे आप बिना माइक्रोस्कोप के नहीं देख सकते आने वाले समय में ननो टेक्नोलॉजी से ऐसे ऐसे आविष्कार होंगे जिनकी हम कल्पना भी नहीं कर सकते

यनिवर्सिटी ऑफ़ कैलिफ़ोर्निया मैं इर्विन रेसेअर्चेर्स ने इस बैटरी को नैनो वायर जोकि सोने से बनी है मगनीस डाइऑक्साइड शैल के अंदर होती है और इसके चारो और इलेक्ट्रोलाइट जोकि प्लेक्सिग्लास जैसे जेल से लिपटी होती है इसकी कैपेसिटी भी होगी लाजवाब

क्या आप कल्पना कर सकते हैं शक्कर के दाने के बराबर के किसी ऐसे कंप्यूटर की, जिसमें विश्व के सबसे बडे पुस्तकालय की समस्त पुस्तकों की समग्र जानकारी संग्रहीत हो या किसी ऐसी मशीन की, जो हमारी कोशिकाओं में घुसकर रोगकारक कीटाणुओं पर नजर रख सके या फिर छोटे-छोटे कार्बन परमाणुओं से बनाए गए किसी ऐसे टेनिस रैकेट की, जो साधारण रैकेट से कहीं अधिक हल्का और स्टील से कई गुना ज्यादा मजबूत हो। कपडों पर लगाए जा सकने वाले किसी ऐसे बायोसेंसर की कल्पना करके देखिए, जो जैव-युद्ध के जानलेवा हथियार एंथ्रेक्स (एक जीवाणु) के आक्रमण का पता महज कुछ मिनटों में लगा लेगा। परी-कथाओं जैसा लगता है न ये सब? पर ये कोरी कल्पना नहीं है। विज्ञान ने इन कल्पनाओं में वास्तविकता के रंग भर दिए हैं नैनोटेक्नोलॉजी (Nanotechnology) के जरिए।

1,729 total views, 4 views today

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *