रॉयल चैलेंजर बैंगलोर को हराकर हैदराबाद बने आईपीएल 9 के विजेता

चैलेंजर्स तीसरी बार, जबकि सनराइजर्स पहली बार पहुंची थी फाइनल में
बैंगलोर की टीम तीसरी बार आईपीएल फाइनल खेली, लेकिन एक बार भी नहीं जीत पाई है, जबकि सनराइजर्स हैदराबाद टीम पहली बार फाइनल खेलने उतरी और जीत दर्ज की। इससे पहले विराट की टीम बैंगलोर 2009 और 2011 में भी खिताब हासिल करने से चूक गई थी।

टॉस जीतकर पहले बैटिंग करते हुए हैदराबाद ने 20 ओवर में 7 विकेट पर 208 रन बनाए। कप्तान डेविड वॉर्नर 38 गेंदों में 69 रन (8 चौके, 3 छक्के) की तूफानी पारी खेलकर आउट हुए, जबकि युवराज सिंह ने 23 गेंदों में 38 रन (4 चौके, 2 छक्के) बनाकर आउट हुए, वहीं बेन कटिंग स्लॉग ओवरों में 15 गेंदों में 39 रन (3 चौके, 4 छक्के) ठोक कर नाबाद लौटे। बैंगलोर की ओर से एस अरविंद ने 4 ओवर में 30 रन देकर 2 विकेट, जबकि क्रिस जॉर्डन ने 4 ओवर में 45 रन देकर 3 विकेट लिए।

२०८ रन का विशाल स्कोर खड़ा करने के बाद फील्डिंग करने उतरे हैदराबाद के खिलाड़ियों ने जगह अपना योगदान दिया एक बार फिर डेथ ओवर्स के मुख्य गेंदबाज ने तोड़ी विरोधी टीम की कमर हम बात कर रहे है मुस्तफिजुर रहमान और भुवनेस्वर कुमार की जिन्होंने आखरी एक एक ओवर में अपनी पकड़ मैच पर बना कर रखी और विरोधी टीम को २०० रन पर रोक दिया

पहले शुरुआत करते हुए हैदराबाद की सलामी जोड़ी ने धमाकेदार शुरुआत की उसके बाद शिखर धवन आउट हुए और फिर यूवराज ने एक अहम पारी खेलते हुए अपनी टीम को कुछ हद तक राहत दिलाई लेकिन उनके आउट होते ही ऐसे लगा की हैदराबाद २०० का आंकड़ा पार नहीं करेगी लेकिन आखरी ३ ओवर्स में बेन कटिंग अपना कमाल दिखाया और उन्होंने १५ गेंदों पर ४ छके और ३ चोक की मदद से नाबाद ३९ रन बनाए और अपनी टीम का स्कोर २० ओवर में २०० के पार पहुंचाया निर्णायक मैच के ये सबसे महत्वपूर्ण खिलाडी रहे

रॉयल चैलेंजर बैंगलोर के खिलाड़ियों ने कहा गलती की
पहले गेंदबाज़ी करते हुए रॉयल चैलेंजर बैंगलोर के गेंदबाजों में वो लय नजर नहीं आई रॉयल चैलेंजर बंगलौर के गेंदबाजों ने 14 एक्स्ट्रा रन दिए कोई भी गेंदबाज लय में नहीं नज़र आया गेंदबाजों को समय समय पर सफलता तो मिली लेकि रनो में वो ज्यादा महंगे साबित हुए

अब 208 रनो का पीछा करने उतरे रॉयल चैलेंजर बैंगलोर की सलामी जोड़ी क्रिस गेले और विराट कोहली ने अपने तूफ़ान को जारी रखा और और पहले 5 ओवर की 55 रनो की साझेदारी में क्रिस गेले 46 रन बनाए जबकि विराट कोहली ने मात्र 6 रन ही बनाए लेकिन क्रिस गेले का तूफ़ान यही नहीं रुका वो हैदराबाद के गेंदबाजों की लय बिगड़ने में कामयाब हुए उन्होंने अपनी तूफानी पारी में 38 गेंदों में 8 छको और 4 चोको की मदद से 76 रन बनाए मुस्तफिजुर रहमान ने 10वां ओवर किया, जिसमें पहली गेंद पर कोहली ने चौका और दूसरी पर छक्का लगा दिया। इसमें 12 रन बने। बैंगलोर- 112/0.

और फिर क्रिस गेले एक गलत शॉट खेलते हुए उन्होंने अपना विकेट गवाया इसके बाद विराट कोहली कुछ देर तक डटे रहे और उन्होंने ३२ गेंदों पर अपना अर्ध सतक पूरा किया लेकिन ज्यादा का इरादा उन्हें ले डूबा और वो भी एक गलत शॉट खेल बैठे इसके बाद AB DE विलियर्स भी गलत शॉट खेल कर आउट हुए फिर शेन वॉटसन, लोकेश राहुल किसी ने भी स्थिति का जायजा लिए बिना धुंआधार शुरुआत करने की कोसिस की और अपना विकेट गवाया
वही कोहली का विकेट मिलते ही हैदराबाद के खेमे में ख़ुशी की लहर दौड़ गई और उन्होंने एक बार फिर अपनी गेंदबाज़ी का बढ़िया प्रदर्शन किया और आखिर के ओवर्स में मैच में अपनी पकड़ मजबूत की और 8 रन से आईपीएल 9 का ख़िताब अपने नाम किया हैदराबाद के खिलाड़ियों ने फील्डिंग में भी अपना पूरा योगदान दिया हैदराबाद के गेंदबाजों ने 9 एक्स्ट्रा रन दिए जबकि रॉयल चैलेंजर बैंगलोर के गेंदबाजों ने 14 रन एक्स्ट्रा दिए

2,438 total views, 2 views today

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *